Tuesday, 2 Jun 2020

छह साल के बच्चे को घर छोड़ क्वारनटीन सेंटर में लोगों की सेवा में जुटी गर्भवती नर्स

 छिंदवाड़ा से एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जिसने साबित कर दिया है कि अगर त्याग और समर्पण की भावना हो तो कोई भी मुश्किल बाधा नहीं बन सकती। यहां नर्स चेतना विश्वकर्मा जो कि गर्भवती हैं, लेकिन अपने छह वर्षीय बेटे की जिम्मेदारी पति को सौंपकर नियमित रुप से क्वारंटाइन सेंटर में लोगों की सेवा में लगी है।

छिन्दवाड़ा जिले के अमरवाड़ा विकासखण्ड के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के क्वारंटाइन वार्ड की प्रभारी स्टाफ नर्स चेतना विश्वकर्मा है। वे गर्भवती होने के बाद भी बिना किसी छुट्टी के क्वारंटाइन सेंटर में पूरी ईमानदारी से सेवा कर रही हैं ।

चेतना बताती है कि उनका छह वर्ष का बेटा है जिसे पति के साथ घर पर छोड़कर क्वारंटाइन सेंटर में कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों के उपचार में लगी हुई है।

Breaking News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via