Tuesday, 2 Jun 2020

इस दवा से ठीक हो गए कोरोना के हज़ारों मरीज़, वैज्ञानिकों में जगी नई उम्मीद

कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैलकर तेजी से लोगों की जान ले रहा है। इस वायरस ने दुनियाभर के लगभग 2 लाख 38  हजार से ज्यादा लोगों की जान ले ली है। कोरोना का सबसे ज्यादा असर अमेरिका पर पड़ा है यहां 11 लाख से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

वहीं मरनेवालों की संख्या 65 हजार के पार चली गई है। इस बीच एक दवा के प्रयोग से अमेरिका में एक बार फिर आशा की किरण नजर आने लगी है। इबोला के इलाज के लिए बनी एक दवा कोरोना के मरीजों पर अच्छा असर कर रही है। ट्रायल के रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका में कोरोना के मरीज इस दवा से 31 फीसदी तेजी से ठीक हो रहे हैं।

अब अमेरिका के वैज्ञानिकों ने कहा है कि इस दवा की सफलता से कोरोना को हराने के लिए हमें नई उम्मीद मिल गई है। यहां तक कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सलाहकार डॉ. एंथनी फॉसी ने भी इस दवा की तारीफ की है।

इस दवा का नाम है रेमडेसिविर। इस दवा की बदौलत कोरोना मरीज 31 फीसदी ज्यादा तेजी से ठीक हो रहे हैं. डॉ. एंथनी फॉसी ने कहा कि यह वाकई में जादुई दवा है। इसकी वजह से मरीजों का जल्दी ठीक होना मतलब हम इस दवा को उपयोग ज्यादा से ज्यादा कर सकते हैं। डॉ. फॉसी ने यह बात व्हाइट हाउस में डोनाल्ड ट्रंप के सामने मीडिया से कही।

आपको बता दें कि अमेरिका में कुछ दिन पहले इस दवा का क्लीनिकल ट्रायल शुरू हुआ था। ट्रायल के बाद जारी आंकड़ों में यह देखा गया कि दवा का मरीजों पर सकारात्मक असर पड़ा है।

डॉ. एंथनी फॉसी ने कहा कि रेमडेसिविर दवा का अमेरिका, यूरोप और एशिया के 68 स्‍थानों पर 1063 लोगों पर ट्रायल किया गया है। जिसमें यह जानकारी मिली है कि यह दवा ज्यादा जल्दी कोरोना मरीजों को ठीक कर सकती है। ज्यादा तेजी से वायरस को रोक सकती है।

Breaking News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via